Motivational story in hindi for students

We bring you the best Motivational Story in Hindi for Students that will leave you at a better place than you are today.

ह्यूजी एर्स्किन की मोटिवेशनल कहानी

motivational story in hindi for students
Motivational story in hindi for students

ह्यूजी एर्स्किन एक सुंदर और आकर्षक  नवयुवक था | परंतु वह बहुत ही गरीब था | विरासत में  उसे बस नाम मात्र की  संपत्ति मिला था, और पैसे कमाने के अपने प्रयासों के में वो  बछड़े और भालू के बीच में एक तितली की तरह था |  ह्यूजी ने अपने किस्मत  को विभिन्न व्यवसायों में अपनाने की कोशिश की, लेकिन अंततः कुछ भी नहीं बन पाया| वो  एक आदर्श युवा व्यक्ति था जिसके पास एक  संपूर्ण प्रोफ़ाइल और बेरोज़गारी के सिवा  कुछ नहीं था  था।

मामले को बदतर बनाने के लिए, वह लौरा मर्टन के साथ प्यार में था |  वह भी उसको चाहती थी  , लेकिन उसके पिता कर्नल मर्टन ने दोनों के बीच कोई नाता नहीं रखना चाहतें थे । वह ह्यूजी से कहते , “मेरे पास तब आना , जब आपके पास अपने खुद के  दस हजार पाउंड हो ।”

एक सुबह,जब ह्यूजी लौरा से मिलके लौट रहा था , तो रस्ते में वो अपने  एक दोस्त, एलन ट्रेवर, से मिला जो एक प्रसिद्ध चित्रकार था । ट्रेवर एक भिखारी की एक तस्वीर बना रहा था।वह तस्वीर एकदम जिवंत  तथा जैसे मानो अवि  बोलने लगे|  और वह भिखारी ऐसा जिसे  देखते ही दया आ जाए |  एक बूढ़ा आदमी, चेहरे मनो  झुर्रीदार चर्मपत्र हो और आँखे बिन आंसू के ही मानों रो रही हो |

Motivational story in hindi for students

ह्यूजी  को भी उसपे दया आ गयी | उसने  सहानुभूति दिखते हुए अपने मित्र से कहा   “एक मॉडल को बैठने के लिए कितना मिलता है?”, “एक शिलिंग एक घंटे का ।”  “और आप को अपनी पेंटिंग के लिए कितना मिलता है?”  “ओह! इसके लिए मुझे दो हजार गिनीयां मिलेंगी ।”  फ़्रेममेकर की अचानक यात्रा ने उनकी बातचीत को बाधित कर दिया और ट्रेवर  उससे मिलने के लिए कमरे से बाहर चले गए|

इस  नई  जानकारी के बाद, ह्यूजी को साड़ी पर और ज्यादा दया आ गई। वह तुरन्त अपने जेब में जो कुछ भी था उस भिखारी के हाथ में रख दिया और चलता बना |  उस रात, उन्होंने ट्रेवर से फिर से मुलाकात की, जिन्होंने उसे बताया कि उस  भिखारी ने ह्यूजी की जिंदगी में बहुत दिलचस्पी दिखाई और उसके पूछे जाने पर  ट्रेवर  ने उसे  ह्यूजी  के जीवन के बारे में सब कुछ बता दिया | उसने उसके शादी ना होने के कारण को भी उस भिखारी को बता दिया |

ह्यूजी चिल्लाते हुए बोला “आपने उस  भिकारी को  मेरे सभी निजी मामलों बता दिए ?”,ट्रेवर मुस्कुराते हुए बोलै “मेरे प्यारे लड़के, परेशानन हो , वो भिकारी, जैसा कि आप उसे कहते हैं, यूरोप का  सबसे अमीर पुरुषों में से एक- बैरन हाऊसबर्ग है। उसने एक महीने पहले मुझे आग्रह किया था की मैं उनको एक भिखारी के रूप में चित्रित करून  “|

“बैरन हाऊसबर्ग! “, ह्यूजी चौंकेते हुए चिल्लाया|  मैंने उसे कुछ छुट्टे  दान में दे दिए| नाखुश और शर्मिंदिगी से भरा हुआ वो ट्रेवर  से पीछा छुड़ाकर भगा जो उस पर हंस रहा था |

अगली सुबह हाऊसबर्ग  के एक दूत ने  ह्यूजी को एक लिफाफा दिया | उस मुहरबंद लिफाफे के अंदर एक चिट्ठी थी जिसपे लिखा था ‘एक बूढ़े  भिखारी के तरफ से  ह्यूजी एर्स्किन और लौरा मर्टन के विवाह के लिए  1, 0000 पाउंड्स | “

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *